पत्रकारिता करने की खुली आजादी तो अब मिली है आरडी शुक्ला की कलम से
क्राइम रिपोर्टर का दर्द आज मित्रों मैं आपको सन 70 से अब तक हो रही पत्रकारों की सियासत के बारे में कुछ भीतरी चीजों को आपके सामने रखना चाहूंगा मैं लखनऊ विश्वविद्यालय में सन 70 में पहुंचा था और वहां छात्र नेता बन गया छात्र नेता बनने के लिए आवश्यक था तत्कालीन अखबारों और उनके संवाददाताओं से संबंध बनाना …
श्री राम का मंदिर निर्माण शुरू करने के बाद अयोध्या में दीपोत्सव 2020 के यादगार दिवस है
आरडी शुक्ला की कलम से 500 साल बाद हिंदुस्तान में जो हुआ वह हमभूल नहीं सकतेपहली बार वीरान पड़ी अयोध्या को दीपों से प्रज्वलित होता देखा 2020 में अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन होते देखा 2020 में ठीक इसी वर्ष करो ना महामारी का विश्व में प्रकोप देखा जिसने इंसान जाति को भयभीत कर के रख दिया लेकिन इसक…
करो ना कॉल का लॉकडाउन तो हमारे लिए वरदान साबित हो गया
आरडी शुक्ला की कलम से 22 मार्च 1920 के दिन अचानक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन आया रेडियो पर दुनिया में तेजी से फैल गई करो ना बीमारी को देखते हुए देश में 1 दिन का जनता कर्फ्यू लगाया जाएगा फिर क्या था पूरे लखनऊ में अफरा-तफरी मच गई लोग इस ताजा महामारी से अवगत हुए ट्रेनें बंद कर दी गई जहाज बंद ह…
सन 1984 में बृजलाल ने ही शुरू की थी माफियाओं के खिलाफ पहली कार्रवाई
आरडी शुक्ला की कलम से अभी हाल ही में भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश बृज लाल जी को सांसद बना दिया और वह इस पद के योग्य व्यक्ति भी हैं उनका कार्य मैंने सन 1984 में बहुत करीब से देखा था जब वह लखनऊ के कप्तान बने थे इत्तेफाक की बात थी कि ठीक उसी समय मैं स्वतंत्र भारत अखबार का क…
मोदी योगी ने शुरू किया ईमानदारी का नया युग
आरडी शुक्ला की कलम से  पिछले 50 वर्षों से शरीफ और ईमानदार जनता पर जबरदस्त अत्याचार कर उनका सब कुछ लूटने वाले बदमाश और माफियाओं का एक झटके में उनका साम्राज्य ध्वस्त करने वाले योगी जी ने उन करोड़ों लोगों का उद्धार किया है जो इन अत्याचारी दुराचारी और भ्रष्टाचारी अपराधियों और माफियाओं के द्वारा सताए जा…