Nda2 का 100 दिन का एजेंडा रहा विकास विश्वास बड़े बदलाव


संपादकीय


  आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे हुए मतलब एनडीए 2 के 100 दिन का एजेंडा था विकास विश्वास बड़े बदलाव सच है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के शुरू होते ही इतने साहसिक और बदलाव पूर्ण फैसले संसद के पहले सत्र में ही ले लिए जो पिछले दशकों से यूं कहिए कभी भी नहीं लिए गए थे जिसमें तीन तलाक का खात्मा जम्मू कश्मीर लद्दाख के मामले में धारा 370 35a का खात्मा यानी आतंकवाद का खात्मा करने का इरादा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तय कर लिया इसके अलावा आर्थिक क्षेत्र में बैंकों के विलय और उदारीकरण से यह तय हो गया आगे आर्थिक मामलों में सुधार चलता रहेगा प्रधानमंत्री के साहसिक कदमों में यह जाहिर कर दिया आगे आने वाले दिनों में और बड़े विश्वास के साथ कदम उठाए जाएंगे आतंकवाद को जड़ से समाप्त करने के इरादे से जम्मू कश्मीर में धारा 370 35a को एक झटके में खत्म कर दिया गया जो इतना सराहनीय कार्य है कि देश की जनता इतना अधिक खुश है कि यह कार्य पिछले 70 सालों से देश के लिए कलंक बना हुआ था कश्मीर में तिरंगा झंडा लहराया आतंकवादियों को ऐसा घेरा गया है कि अब वे कुछ करवाने में अपने को असमर्थ पा रहे हैं पाकिस्तान को पूरी दुनिया से कश्मीर के मामले में कोई सहयोग नहीं मिला यह प्रधानमंत्री मोदी की सफल विदेश नीति का खुला खुला परिणाम है पाकिस्तान की परेशानी साबित कर रही है उनके प्रधानमंत्री के हालातों से इन्हीं 100 दिनों में chandrayaan-2 लगभग चंद्रमा की सतह तक पहुंचने में सफल रहा आगे वैज्ञानिकों का कार्य जारी है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो सेंटर पहुंचकर यह दिखा दिया कि वह देश के किसी भी महत्वपूर्ण कार्य के साथ हर समय मौजूद है पूरी रात प्रधानमंत्री वहां रहे वैज्ञानिकों का जिस तरह उन्होंने मनोबल बढ़ाया उससे यह साबित होता है ऐसा प्रधानमंत्री भारत को भाग्य से मिला जो हर क्षेत्र में भारत को आगे ले जाने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं प्रधानमंत्री की शपथ लेने के बाद से आज तक मोदी जी ने आराम नहीं किया आज भी वे हरियाणा में 24000 करोड़ की लागत से शुरू होने वाले विकास कार्यों का उद्घाटन कर रहे थे मोदी जी के अलावा अमित शाह भी इन सब कार्यों में बहुत ही आगे हैं देश की सुरक्षा व्यवस्था के प्रति वह इतने सजग हैं कि आज देश के भीतर आतंक फैलाने वाले हिंसा फैलाने वाले जान बचाते घूम रहे हैं तो हम खुलकर कह सकते हैं के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 100 दिन महत्वपूर्ण निर्णयों के दिन थे संसद से लेकर सड़क तक इतने बड़े फैसले ले लिए गए जिनकी किसी को आशा भी नहीं की इन निर्णयों से विपक्ष की बोलती बंद है और जनता बहुत ज्यादा खुश है और उसके दिल में यह बात बैठ गई है जल्दी ही भ्रष्टाचारी बेईमान जेल के भीतर होंगे उसका उदाहरण है पूर्व गृह मंत्री और वित्त मंत्री पी चिदंबरम का तिहाड़ जेल में बंद होना अदालतें भी अब भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं कर रही है और ना ही वह किसी तरह की भ्रष्टाचारियों और अपराधियों को राहत दे रही हैं इससे अब साफ जाहिर है कि देश बदल रहा है भारत बदल रहा है नया भारत का उदय हो रहा है इसका नेतृत्व माननीय नरेंद्र मोदी जी कर रहे हैं यह जनता को विश्वास हो गया है इसीलिए पूरा भारत पिछले 100 दिन से सरकार बनाने के बाद चुपचाप मोदी जी के कार्यों को देख रहा है और मोदी जी नए भारत के निर्माण में 24 घंटे लगे हुए ऐसा प्रधानमंत्री भाग्य से भारत को मिल गया है निश्चित ही भारत का भविष्य उज्जवल है यह हम ही नहीं पूरा देश जान रहा है कि अब भ्रष्टाचार खत्म होगा देश आगे बढ़ेगा देश की आर्थिक स्थिति विश्व में अपना स्थान बनाएगी यह सब बातें बातें नहीं हैं सब सामने आ रही हैं इसी वजह से विपक्षी लोगों की बोलती बंद है काम के आगे बड़े बड़े नर मस्तक हो जाते हैं वही हाल फिलहाल हमारे देश का सेना को भी उच्च स्तर के हेलीकॉप्टर और अस्त्र दिए जा रहे हैं जिससे कि उनका भी मनोबल बहुत ऊपर है और देश की सीमाओं की रक्षा के लिए बहुत ही सजग हैं जय हिंद उपमा शुक्ला


Popular posts
यह उस छविराम डाकू की कहानी है जिसने एटा जिले के अलीगंज थाने में घुसकर सारे पुलिस वालों को मार कर हथियार लूट लिए थे
बिल हटी का जंगल जहां 2 दर्जन से अधिक आदमी और औरतों का हड्डियों का कंकाल देखकर कलेजा कांप उठा पता चला यहां लखनऊ और आसपास के जिलों से अपराधी लोगों का अपरहण करके लाते हैं और मार कर फेंक देते हैं फिरौन की लाश को गिद्ध 1 घंटे में चट कर जाते हैं अब सुनाते हैं उस जंगल की सनसनीखेज कहानी
तमाम पुलिसवालों की हत्या करने वाले दुर्दांत खूंखार डाकू छविराम उर्फ़ नेताजी को कैसे लगाया पुलिस ने ठिकाने नहीं मानी सरकार की यह बात कि उसको जिंदा आत्मसमर्पण करवा दो पूर्व डीजीपी करमवीर सिंह ने कहां हम इसको माला पहनकर आत्मसमर्पण नहीं करने देंगे और सरकार को झुका दिया कहानी सुनिए आरडी शुक्ला की कलम से विकास उसके सामने कुछ नहीं था
कुदरत से टकराने का दंड भोग रहे हैं दुनिया के इंसान आरडी शुक्ला की कलम से
सांसद की गाड़ी बरसाती गड्ढे का शिकार
Image